नोखा ईओ अमित कुमार होंगे सस्पेंड-भ्रष्टाचार का गंभीर आरोप,अवैध ढंग से सफाई एजेंसी को कर रहे थे भुगतान | - Jansagar News - Hindi News Portal of Rohtas & Kaimur, Sasaram News,सासाराम न्यूज ,भभुआ न्यूज़

Jansagar News - Hindi News Portal of Rohtas & Kaimur, Sasaram News,सासाराम न्यूज ,भभुआ न्यूज़

Single and Trusted News Portal of Rohtas & Kaimur

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

Friday, September 23, 2022

नोखा ईओ अमित कुमार होंगे सस्पेंड-भ्रष्टाचार का गंभीर आरोप,अवैध ढंग से सफाई एजेंसी को कर रहे थे भुगतान |

नोखा ईओ अमित कुमार को सस्पेंड करने की अनुशंसा,अवैध ढंग से सफाई एजेंसी को कर रहे थे भुगतान | Nagar Parishad Nokha | Breaking News Rohtas |

Nagar Parishad Nokha



नगर परिषद नोखा के मौजूदा कार्यपालक पदाधिकारी अमित कुमार पर विभागीय कार्यवाई शुरू हो गई है | जिलाधिकारी रोहतास द्वारा गठित दो सदस्यीय जाँच कमिटी के अनुशंसा पर अमित कुमार पर प्रपत्र क गठित कर दिया गया है | प्रपत्र क के साथ साथ आरोप पत्र और विभागीय कार्यवाई शुरू करने की अनुशंसा की गई है |



जिला प्रशासन रोहतास द्वारा आज जारी प्रेस नोट के अनुसार कार्यपालक पदाधिकारी अमित कुमार के उपर गंभीर आरोप लगाया गया है | जिसमें भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप भी शामिल है | कार्यपालक पर आरोप है की सफाई एजेंसी के कार्य संतोषजनक नहीं होने के बावजूद भी लगातार उसे भुगतान किया जा रहा था | जिससे यह स्पष्ट होता है की सफाई एजेंसी और कार्यपालक पदाधिकारी मिलकर भ्रष्टाचार कर रहे थे | उक्त आरोप दो सदस्यीय जांच दल द्वारा लगाया गया है | जिलाधिकारी रोहतास द्वारा भानु प्रकाश, जिला योजना पदाधिकारी, रोहतास एवं श्री चेत नारायण राय, वरीय उप समाहर्ता, रोहतास से जाँच करायी गई। जाँच कमिटी मई महीने में ही बनी थी | 




28 मई को जाँच कमिटी द्वारा जिलाधिकारी को जाँच रिपोर्ट सौंपी गई थी | जांच रिपोर्ट में प्रतिवेदित किया गया है कि "कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद्, नोखा के द्वारा साफ-सफाई करने वाली संस्था के असंतोषप्रद कार्य के पश्चात भी भुगतान किया जा रहा है जबकि ऐसी संस्था का एकरारनामा रद् कर उसे काली सूची में दर्ज करने की कार्रवाई की जानी चाहिए थी। इसे संयुक्त जाँच दल द्वारा बिना संतोषप्रद कार्य के किया गया भुगतान को भुगतान मानते हुए उसे वित्तीय अनियमितता की श्रेणी में दर्शाया गया है। इसी प्रकार नई योजनाओं के कार्यान्वयन एवं कार्यान्वित योजनाओं में राशि विमुक्ति/भुगतान आदि प्रशासक के अनुमोदन/स्वीकृति के पश्चात ही किया जाना चाहिए था जो कि कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद्, नोखा द्वारा नहीं किया गया है, जिसे नियमानुकूल नहीं बताया गया है। प्रशासक से समन्वय स्थापित कर कार्य कराना कार्यपालक पदाधिकारी का दायित्व था जिसका निर्वहन उनके द्वारा नहीं किया गया है।’’



इस जाँच रिपोर्ट के बाद कार्यपालक पदाधिकारी अमित कुमार द्वारा सपष्टीकरण की मांग की गई थी | 02 जुलाई को अमित कुमार ने अपना स्पष्टीकरण समर्पित किया,जिसके बाद जाँच दल से पुनः मंतव्य की मांग की गई | 



संयुक्त जाँच दल द्वारा अपने पत्र संख्या- 4786/विधि, दिनांक- 03.09.2022 द्वारा सभी आरोपों के संबंध में प्राप्त स्पष्टीकरण की बिन्दुवार समीक्षा करते हुए श्री अमित कुमार, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, नोखा के विरूद्ध प्रशासक नगर परिषद, नोखा-सह-निदेशक, DRDA, रोहतास द्वारा  लगाये गये आरोपों की प्रकृति को गंभीर मानते हुए इसे स्वेच्छाचारिता, वित्तीय अनियमितता दर्शाते हुए श्री कुमार, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, नोखा के विरूद्ध विभागीय कार्रवाई की अनुशंसा की गई है।

संयुक्त जाँच दल से प्राप्त अनुशंसा के आलोक में श्री अमित कुमार, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, नोखा के विरूद्ध विहित प्रपत्र में प्रपत्र-‘‘क‘‘ गठित कर आरोप पत्र के साथ उनके  विरूद्ध विभागीय कार्रवाई प्रारंभ करने एवं उन्हें निलंबित करने की अनुशंसा की गई है।

Jansagar News Desk

Post Bottom Ad